पूर्व सपा विधायक राधेश्याम जायसवाल का आरोप, गेटकीपर के साथ एसडीएम अमित भट्ट ने की अभद्रता !

सीतापुर। पूर्व सपा विधायक राधेश्याम जायसवाल के बेटे ने मीडिया को व्हाट्सएप पर एक पत्र लिख कर भेजा है जिसमें उन्होंने अपने गेटकीपर के साथ अभद्रता कर उसे पकड़ कर ले जाने का प्रशासन व सीतापुर सदर एसडीएम अमित भट्ट पर आरोप लगाया है। आगे पढ़ें उन्होंने और अपने पत्र में क्या-क्या लिखा।

उन्होंने लिखा “जैसा की आप सभी को ज्ञात है कि गत जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लाक प्रमुख पद के चुनाव में भाजपा सरकार द्वारा की गई धांधली और महिलाओं व विपक्षी उम्मीदवारों से की गई अभद्रता और दुर्व्यवहार एवं अन्य ज्वलंत मुद्दों को लेकर समाजवादी पार्टी द्वारा सभी तहसील मुख्यालयों पर दिनांक 15 जुलाई, 2021 को शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर महामहिम राष्ट्रपति महोदय जी को एक ज्ञापन प्रेषित करने का कार्यक्रम होना था, लेकिन इसके विपरीत आज दिनांक 14 जुलाई 2021 को ही शासन के दबाव में पुलिस और प्रशासन द्वारा समाजवादी पार्टी के सभी पदाधिकारियों विधायकों व पूर्व विधायकों की धरपकड़ कर उनको हिरासत में लिया जा रहा है।

इसी क्रम में आज दिनांक 14 जुलाई, 2021 को सीतापुर सदर एसडीएम अमित भट्ट व पुलिस प्रशासन दिन में मेरे घर मुझे उक्त कार्यक्रम को करने से रोकने वह हिरासत में लेने के लिए आए। मैं उस समय अपने घर पर मौजूद नहीं था। मेरे ना मिलने पर उन्होंने मेरे गेटकीपर से पूछताछ करने के बाद उसे अपने साथ पकड़ कर ले गए।

एसडीएम अमित भट्ट और प्रशासन की यह करतूत मेरे घर के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में कैद हो गई थी जो कि इसके साथ अटैच है। जिसे यह प्रतीत होता है कि प्रशासन उक्त प्रदर्शन कार्यक्रम को शांतिपूर्वक नहीं होने देना चाहता है और वह किस प्रकार से सत्ता का दुरुपयोग कर रहा है और लोकतंत्र का खुलेआम खिलवाड़ किया जा रहा है।

मेरे द्वारा उपरोक्त की घोर एवं कड़े शब्दों में निंदा की जाती है। मेरी यह मांग है कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात को शांतिपूर्वक तरीके से कहने का पूरा अधिकार है और उसे किसी प्रकार से दबाया नहीं जा सकता है। उक्त पूरे घटनाक्रम से मैं आपको अवगत करा रहा हूं।

Related Articles

Back to top button